यह बड़े शर्म की बात है कि विश्व भर में लगभग 15 करोड़ बच्चे आज भी बाल श्रम करने पर मजबूर हैं। इस अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस पर, आइए एक बार फिर बाल श्रम के इस नासूर को जड़ से मिटाने का संकल्प

यह बड़े शर्म की बात है कि विश्व भर में लगभग 15 करोड़ बच्चे आज भी बाल श्रम करने पर मजबूर हैं। इस अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस पर, आइए एक बार फिर बाल श्रम के इस नासूर को जड़ से मिटाने का संकल्प

यह बड़े शर्म की बात है कि विश्व भर में लगभग 15 करोड़ बच्चे आज भी बाल श्रम करने पर मजबूर हैं। इस अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस पर, आइए एक बार फिर बाल श्रम के इस नासूर को जड़ से मिटाने का संकल्प

यह बड़े शर्म की बात है कि विश्व भर में लगभग 15 करोड़ बच्चे आज भी बाल श्रम करने पर मजबूर हैं। इस अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस पर, आइए एक बार फिर बाल श्रम के इस नासूर को जड़ से मिटाने का संकल्प

Let's Connect

sm2p0